महिलाओं की कई बिमारियों का इलाज है इस जड़ी-बूटी पौधे में, आयुर्वेद में इसके पौष्टिक गुणों से औषधि बनाई जाती है, जानिए कौन-सा पौधा है

महिलाओं की कई बिमारियों का इलाज है इस जड़ी-बूटी पौधे में, आयुर्वेद में इसके पौष्टिक गुणों से औषधि बनाई जाती है, जानिए कौन-सा पौधा है

महिलाओं की कई बिमारियों का इलाज है इस जड़ी-बूटी पौधे में, आयुर्वेद में इसके पौष्टिक गुणों से औषधि बनाई जाती है, जानिए कौन-सा पौधा है इस पौधे के पोषक तत्व बहुत फायदेमंद होते है इसका उपयोग आयुर्वेद की औषधि बनाने के लिए किया जाता है जिससे कई बिमारियों का जबरदस्त इलाज होता है इसके पौष्टिक गुण बहुत उपयोगी और असरदार होते है हम बात कर रहे है शतावरी पौधे की जो बेहद फायदेमंद पौधा होता है।

महिलाओं की कई बिमारियों का इलाज है इस जड़ी-बूटी पौधे में, आयुर्वेद में इसके पौष्टिक गुणों से औषधि बनाई जाती है, जानिए कौन-सा पौधा है

यह भी पढ़े सर्दियों में जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाएगा ये तेल, स्वाद ही नहीं सेहत का भी रखता है ख्याल, जानिए कौन-सा तेल है

शतावरी पौधे के फायदे

शतावरी पौधे की जड़ बहुत काम की होती है इसकी जड़ को महिलाओं की समस्या और बिमारियों के लिए इस्तेमाल किया जाता है इसकी जड़ का उपयोग कर के कई बीमारियां का इलाज होता है इस में पाए जाने वाले पोषक तत्व प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, डायटरी फाइबर, थियामिन, फोलेट, नियासिन, विटामिन K, विटामिन E, विटामिन C, आयरन, कैल्शियम, मैंगनीज, जिंक, सेलेनियम का बहुत अच्छा स्त्रोत होता है। जो कई बिमारियों का जड़ से खत्म करते है।

महिलाओं की कई बिमारियों का इलाज है इस जड़ी-बूटी पौधे में, आयुर्वेद में इसके पौष्टिक गुणों से औषधि बनाई जाती है, जानिए कौन-सा पौधा है

कैसे उपयोग करें

शतावरी पौधा बहुत फायदेमंद होता है इसका उपयोग करने के लिए इसकी जड़ों का उपयोग करना चाहिए। शतावरी की जड़ का उपयोग मुख्य रूप से ग्लैक्टागोज के लिए किया जाता है जो स्तन दुग्ध के स्राव को उत्तेजित करता है। इसका जूस और सिरप भी मिलता है जो बहुत फायदेमंद होता है। इस पौधे की जड़ से लेकर पत्तियां सब उपयोगी होती है। इसका उपयोग सेहत के लिए अच्छा माना जाता है

यह भी पढ़े ये आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी हड्डियों में जमा यूरिक एसिड को निकाल फेकती है और कई बिमारियों का करती है रामबाण इलाज, जानिए औषधि का नाम

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now