ना पीले होंगे, ना सूखेंगे, नवरात्री में ऐसे उगाएं जौ, 9 दिनों तक हरे-भरे रहेंगे

ना पीले होंगे, ना सूखेंगे, नवरात्री में ऐसे उगाएं जौ, 9 दिनों तक हरे-भरे रहेंगे। चैत्र के नवरात्र की शुरुआत हो चुकी है। इसी लिए आज हम जानेंगे कि जौ का पौधा कैसे उगाएं और उसका ध्यान कैसे रखे।

ना पीले होंगे, ना सूखेंगे जौ के पौधे

आज 9 अप्रैल 2024 से चैत्र नवरात्रि की शुरुआत हो चुकी है। यह नवरात्रि 9 दिन की रहेगी, और 17 अप्रैल को समाप्त हो जाएगी। बता दे की यह नवरात्रि साल की दूसरी महत्वपूर्ण नवरात्रि मानी जाती है। जिसमें जौ के पौधे की बहुत मान्यता होती है। जी हां आपको बता दे कि ऐसा कहा जाता है कि नवरात्रि में जौ उगाने से देवी भगवती भक्तों पर प्रसन्न होती है। इसके साथ ही देवी दुर्गा और अन्नपूर्णा के साथ भगवान ब्रह्मा का आशीर्वाद भी मिल जाता है।

इसलिए नवरात्रि में जौ उगाए जाते हैं, और 9 दिन तक उनकी देखभाल की जाती है। तब आइये जानते हैं आपको जौ का पौधा किस तरह से उगाना चाहिए। उसकी देखभाल कैसे करनी चाहिए। जिससे वह 9 दिनों तक हरे रहे और सूखने ना पाए।

ना पीले होंगे, ना सूखेंगे, नवरात्री में ऐसे उगाएं जौ, 9 दिनों तक हरे-भरे रहेंगे

यह भी पढ़े- गुलाब के फूल-पौधे पर एक परत चिपके कीड़ों को हटाने के लिए इस दवाई का करें इस्तेमाल, तुरंत दिखेगा असर

जौ का पौधा कैसे उगाएं

नीचे लिखे बिंदुओं के अनुसार जाने जौ का पौधा उगाने के बाद कैसे उसका 9 दिन ध्यान रखें। जिससे जौ का पौधा ना पीला हो ना सूखे।

  • जौ का पौधा उगाने के लिए कई तरह के तरीके हैं। जिसमें एक तरीका यह है कि आप रेत को अच्छे से छानकर उसे इकट्ठा करके उसमें जौ के बीज बो सकते हैं। इसके अलावा मिट्टी के बर्तन में रेत और मिट्टी मिलाकर भी जौ बोया जाता है। साथ ही मिट्टी के बर्तन में सिर्फ रेत या सिर्फ मिट्टी डालकर भी जौ के दाने डालकर जो बो सकते हैं। इस तरह आपको जो तरीका अच्छा लगे या आपके पास जो साधन हो उसके अनुसार जौ बोल सकते हैं।
  • लेकिन यहां पर आपको एक चीज का ध्यान रखना है की मिट्टी साफ होनी चाहिए। रेत भी साफ होनी चाहिए। उसमें कंकर ना रहे। इसके अलावा आपको जौ के बीच को भी अच्छे से साफ कर लेना है।
  • फिर आपको जौ का पौधा वहां पर लगाना है जहां पर चूहे ना आए। नहीं तो पूरा जौ खा जाएंगे और मिट्टी अलग कर देंगे।
  • इसके आलावा आपको रोजाना मिट्टी का ध्यान रखना है कि एकदम से सूख ना पाए। हल्की नमी बरकरार रहे। जिसके लिए आप पानी डालते रहे। पर ज्यादा भी पानी नहीं देना है।
  • धूप का भी आपको ध्यान रखना है। क्योंकि चैत्र नवरात्रि में अच्छी-खासी धूप होती है। जिससे पौधा सूख सकता है। इसलिए जहां पर पौधा लगाएं वहां तेज धुप ना आये। हो सके तो आप छाँव और हवा वाली जगह पर रख सकते हैं।

इस तरह जौ का पौधा लगाने से लेकर नौ दिनों तक इन बातों का ध्यान रखे।

यह भी पढ़े- सफ़ेद बैगन की ऐसे करें खेती, इतनी जमीन में 10 लाख की है कमाई, जानिये सफ़ेद बैगन की खेती की पूरी जानकारी