महंगाई की लग गई लंका, सस्ते मे प्याज-आटा-दाल दे रहीं सरकार, यहां जानें आम आदमी को कैसे हो रहा लाभ

महंगाई की लग गई लंका, सस्ते मे प्याज-आटा-दाल दे रहीं सरकार, यहां जानें आम आदमी को कैसे हो रहा लाभ। महंगाई अपनी चरम सीमा पर है। लेकिन सरकार इससे राहत दिला रही है। चलिए जानते है कैसे।

महंगाई से राहत

महंगाई को नियंत्रित करने के लिए केंद्र सरकार कई तरह से प्रयास कर रही है। जिससे आम जनता का सस्ते में खाने की चीजे मिल सके। मिली जानकारी के अनुसार, केंद्र सरकार महंगाई को नियंत्रित करने के लिए रियायती दरों पर भारत ब्रांड के आटे का वितरण कर रही है। जिसके लिए उन्होंने अभी भारतीय खाद्य निगम एफसीआई के जरिए इस महीने में तीन सरकारी एजेंसियों को तीन लाख टन तक का गेहूं देने जा रही है। क्योंकि मौजूदा हालात में गेहूं/आटे के भाव बहुत ज्यादा बढ़ रहे हैं। जबकि सरकार इन्हें कम करने का प्रयास कर रही है। चलिए जानते हैं, सरकार की क्या-क्या कर रही है और महंगाई कुछ ही महीनो में कितनी बढ़ी है।

महंगाई की लग गई लंका, सस्ते मे प्याज-आटा-दाल दे रहीं सरकार, यहां जानें आम आदमी को कैसे हो रहा लाभ

यह भी पढ़े- Pashu Shed Yojana 2024: पशुपालक भाइयों की हुई बल्ले-बल्ले, सरकार दे रही है शेड बनाने के लिए 2 लाख रुपए, जानिए पूरी जानकारी

कुछ ही महीनों में कितनी बढ़ी महंगाई

महंगाई की बात करें तो पिछले 4 महीने में तेज रफ्तार से हर चीज महंगी हो रही है। जिसमें खाद्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 4 महीने में महंगाई उच्चतम स्तर 5.59 फीसदी से आगे बढ़ रही है, और आटे की बात करें तो खुदरा कीमत 36.5 किलोग्राम हो गई है। इस तरह आप अंदाजा लगा सकते हैं कि, जनता को कितनी महंगाई झेलनी पड़ रही है। चलिए जानते हैं सरकार द्वारा क्या-क्या रियायतें दी जा रहे हैं।

महंगाई की लग गई लंका, सस्ते मे प्याज-आटा-दाल दे रहीं सरकार, यहां जानें आम आदमी को कैसे हो रहा लाभ

सरकार कैसे कर रही महंगाई में आम आदमी की मदद

केंद्र सरकार द्वारा महंगाई को नियंत्रित करने के लिए आटा-दाल देने के साथ-साथ सब्जियों में टमाटर-प्याज भी दे रही हैं। क्योंकि जब महंगाई बढ़ जाती है तो सरकार कम कीमतों में लोगों को उपलब्ध कराती है। जिसमें आटे की बात करें तो 27.5 रुपए में उन्हें एक किलोग्राम आटा मिल जाता है। आपको बता दे कि केंद्र सरकार उन क्षेत्रों में सस्ते में खाने की चीज उपलब्ध करा रही है, जहां पर महंगाई चरम सीमा पर पहुंच रही है। इस तरह जहां महंगाई जाती है। सरकार वहां उसे नियंत्रित करने का प्रयास कर रही है।

यह भी पढ़े- सरकार दे रही 37 हजार रु, छत पर लगा लो फल या सब्जी, खाओ भी बेचो भी, हर जाती को मिल रहा लाभ, जानें कैसे करें आवेदन

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now