गेहूँ की कटाई के बाद किसान इस फसल की खेती करें, तगड़ी होगी कमाई

गेहूँ की कटाई के बाद किसान इस फसल की खेती करें, तगड़ी होगी कमाई। आज हम जानेंगे कि किसान रबी की फसल की कटाई के बाद गर्मियों में किसान किस फसल से कमाई कर सकते है, ताकि खेत खाली ना पड़े रहे।

गेहूँ की कटाई के बाद कौन-सी फसल लगाएं

रबी की फसल की कटाई शुरू हो चुकी है। जिसमें कुछ किसानों ने कटाई कर ली है, तो कुछ अभी कर रहे हैं। इसलिए आज हम जानेंगे कि किसान भाई अप्रैल महीने में किस फसल की खेती करके कमाई कर सकते हैं। क्योंकि रबी की फसल की कटाई के बाद खरीफ की फसल की बुवाई से कुछ समय पहले खेत खाली रहते हैं। इसलिए कुछ किसान चाहते हैं कि हम इस समय भी थोड़ी सी आमदनी कर लें।

इसीलिए आज हम तिल की खेती के बारे में जानेंगे। जी हां आपको बता दे कि अप्रैल में किसान तिल की खेती कर सकते हैं। जिससे उन्हें अच्छी खासी कमाई हो सकती है। तब चलिए जानते हैं तिल की खेती कैसे करें। जिससे किसान को अच्छी खासी आमदनी हो जाए।

गेहूँ की कटाई के बाद किसान इस फसल की खेती करें, तगड़ी होगी कमाई

यह भी पढ़े- गुलाब के फूल-पौधे पर एक परत चिपके कीड़ों को हटाने के लिए इस दवाई का करें इस्तेमाल, तुरंत दिखेगा असर

तिल की खेती कैसे करें

नीचे लिखे बिंदुओं के अनुसार जाने तिल की खेती का तरीका।

  • तिल की खेती के लिए सबसे पहले मिट्टी की बात की जाए तो रेतीली, दोमट और बलुई मिट्टी बेहतर मानी जाती है। इस मिट्टी में तिल का पौधा अच्छे से बढ़ता है।
  • इसके बाद आप खेत की जुताई रोटावेटर से करके दो से तीन बार कल्टीवेटर से भी खेत की अच्छे से जोते।
  • फिर जोतने के बाद आप खेत में बुवाई कर सकते हैं। जिसमें अगर आप चाहते हैं की फसल में किसी तरह का रोग ना हो तो बीज का उपचार कर सकते हैं। जिसके लिए मित्र फफूंद ट्राइकोडर्मा विरिडी से 4 ग्राम प्रति किग्रा के हिसाब से बीच का उपचार करने के बाद बुवाई करें।
  • खाद की बात करें तो बोवाई के समय ही आप सड़ी खाद के साथ नीम की खली 250 किग्रा प्रति के हिसाब से डाल सकते हैं।
  • बुवाई आप पंक्ति के अनुसार करेंगे और एक बीज से दूसरे बीज की दूरी 12 से 15 सेंटीमीटर रख सकते हैं। जो कि बेहतर होगा।
  • बुवाई के बाद करीब 20 दिन में फसल की पहली सिंचाई कर सकते हैं। उसके एक सप्ताह बाद दूसरी सिंचाई कर लेंगे।
  • अगर पौधे में किसी तरह के रोग या कीट नजर आ रहे हैं तो रोग प्रबंधन भी कर सकते हैं।
  • अगर आप बीज उपचार नहीं करते हैं, और आपकी फसल तैयार हो गई है तो आप 30 से 40 दिनों के भीतर के साथ 45 से 55 दिन में नीम वाला कीटनाशक छिड़क सकते हैं। इससे भी कीट नियंत्रित होंगे और फसल खराब नहीं होगी।
  • इस तरह इन तरीको से तिल की खेती कर सकते है। तिल की फसल करीब 86 दिन में तैयार हो जायेगी।

यह भी पढ़े- सफ़ेद बैगन की ऐसे करें खेती, इतनी जमीन में 10 लाख की है कमाई, जानिये सफ़ेद बैगन की खेती की पूरी जानकारी