अनार की इस किस्म की खेती से सिर्फ 6 महीने में ही बन जायेंगे करोड़पति, विदेशों में है इतनी डिमांड की बिकता है 200 रुपए का एक अनार

अनार की इस किस्म की खेती से सिर्फ 6 महीने में ही बन जायेंगे करोड़पति, विदेशों में है इतनी डिमांड की बिकता है 200 रुपए का एक अनार अनार की इस किस्म का नाम भगवा इसके रंग के कारण पड़ा यह अनार मुख्य रूप से महाराष्ट्र के कई जिलों में उगाया जाता है लेकिन अब देशभर में व्यापारिक रूप से इसकी खेती बढ़ती जा रही है। जिस कारण लोग इसकी खेती करना पसंद भी कर रहे हैं इससे आमदनी भी काफी ज्यादा होती है जिस कारण ये खेती किसानों की पहली पसंद बनी हुई है भगवा अनार को शेंदरी, अष्टगंधा, मस्तानी, जय महाराष्ट्र और रेड डायना के नाम से भी जाना जाता है। अनार की इस किस्म से किसानों को बहुत ज्यादा फायदा होता है इसलिए हर किसान किसान इसकी खेती करने के बारे में सोचता है।

अनार की इस किस्म की खेती से सिर्फ 6 महीने में ही बन जायेंगे करोड़पति, विदेशों में है इतनी डिमांड की बिकता है 200 रुपए का एक अनार

यह भी पढ़ें बहुत ही कम जमीन में करें बाजार में 300 रुपए किलो बिकने वाली नींबू की इस किस्म की खेती, करोड़ों में होगी कमाई

भगवा अनार है उच्च उत्पादन और मोटी कमाई वाली फसल

भगवा अनार की किस्म उच्च उत्पादन देने में भी कारगर होती है इसकी फसल 170 से 190 दिनों में तैयार हो जाती है यह बहुत ही कम समय और कम लागत में भी बहुत ज्यादा उत्पादन देने में सक्षम होती है इस अनार की किस्म की क्वालिटी भी काफी शानदार होती है जिस कारण लोग इसे खाना और खरीदना बहुत ही ज्यादा पसंद करते है। इसके एक पौधे से 40-50 किलो तक का उत्पादन प्राप्त किया जा सकता है इसके बाहरी परत इतनी मोटी होती है की इसे ट्रांसपोर्ट करने में कोई जोखिम नहीं उठाना पड़ता है।

अनार की इस किस्म की खेती से सिर्फ 6 महीने में ही बन जायेंगे करोड़पति, विदेशों में है इतनी डिमांड की बिकता है 200 रुपए का एक अनार

भगवा अनार की विशेषताएं

इस अनार पर काले धब्बे कम होते हैं जिस कारण इनकी सुंदरता और बढ़ जाती है और इसे बेचने में काफी आसानी होती है।भगवा अनार का फल बड़ा, चमकदार और रंगीन होता है जिस कारण यह बहुत ही ज्यादा आकर्षक दीखते हैं यूके, हॉलेंड, अन्य यूरोपीय देश और खाड़ी देशों में भगवा अनार की काफी ज्यादा मांग होती है। जिससे यहाँ किसानों को इससे बहुत ज्यादा आमदनी मिलती है यहाँ इस अनार को बहुत ही ऊँचे दामों में बेचा जाता है इसके खाया जाने वाले बीज चेरी के लाल रंग की तरह होते हैं इस अनार का स्वाद भी काफी बेहतरीन होता है जिस कारण लोग इसकी काफी डिमांड करते हैं।

यह भी पढ़ें बंजर जमीन में करें इस पौधे की खेती होगा 100 क्विंटल होगा उत्पादन, पढ़िए पूरी प्रोसेस

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now