लाखों बीमारियाँ पास आने से डरे बस लगाए ये पेड़ अपने खेत या घर में और उपयोग करें इस पेड़ की दवाओं का, जानिए कैसे की जाती है खेती

लाखों बीमारियाँ पास आने से डरे बस लगाए ये पेड़ अपने खेत या घर में और उपयोग करें इस पेड़ की दवाओं का, जानिए कैसे की जाती है खेती। पेड़ लगाकार अपने आस पास का वातावरण अच्छा करें और अपना स्वास्थ भी। क्योकि इस पेड़ में आपको इतने सारे फायदे है की गिनते गिनते थक जायेगे पर फायदे ख़त्म नहीं होंगे इस पेड़ की छाल के बहुत फायदे है लाखो शरीर से जोड़ी बीमारियाँ का ईलाज किया जाता है। हम बात कर रहे है अर्जुन के पेड़ की।

लाखों बीमारियाँ पास आने से डरे बस लगाए ये पेड़ अपने खेत या घर में और उपयोग करें इस पेड़ की दवाओं का, जानिए कैसे की जाती है खेती

यह भी पढ़े हमेशा बरक़रार रहेगी खूबसूरती और साथ ही जवानी जो की हर किसी को प्रिय होती है, जानिए कैसे की जाती है खेती

कैसे की जाती है खेती

अर्जुन के पेड़ की खेती करने के लिए आपको सबसे पहले अर्जुन का पेड़ 48 डिग्री सेल्सियस तक के तापमान में अच्छा विकास करता है गर्मियों के समय इसकी खेती उपयुक्त मानी जाती है इसे किसी भी प्रकार की मिट्टी में उगा सकते हैं हालांकि, इसका पौधा, उपजाऊ जलोढ़-कछारी, बलुई दोमट मिट्टी में काफी तेजी से विकास करता है। कम से कम 12 से 14 साल बाद ये पेड़ अच्छा बड़ा हो जाता है।

लाखों बीमारियाँ पास आने से डरे बस लगाए ये पेड़ अपने खेत या घर में और उपयोग करें इस पेड़ की दवाओं का, जानिए कैसे की जाती है खेती

कितनी होगी आमदनी

इस अर्जुन के पेड़ की बात करें तो 100 ग्राम 15 रूपये का मिलता है और आपको बता दे अगर आप इस पेड़ की खेती करते है तो आपको एक एकड़ में 15 से 20 लाख रूपये का मुनाफा देखने को मिलेगा और इस पेड़ की खेती कर अपना कारोबार और भी बड़े स्तर पर कर सकते है जिससे आपका और भी ज्यादा मुनाफा देखने को मिलेगा।

यह भी पढ़े बुढ़ापा आपके आस-पास भटकेगा भी नहीं 70 साल के होने के बाद भी लगोगे 30 साल के अगर खा लिया ये ड्राई फ्रूट, जानिए कैसे की जाती है खेती

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now